जानिए Maida Kaise Banta Hai

इस आर्टिकल में आज हम आपको बताने वाले है की maida kaise banta hai अगर आपको भी अपने घर पर maida बनाना है तो आप भी हमारा ये आर्टिकल पूरा पढ़ सकते है 

भारत और बाकि के देशो में जो बहुत सी अलग-अलग तरह के व्यंजन बनाने के लिए जिस आइटम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है वो मैदा है चाहे वो भारतीय व्यंजन हो जैसे की खस्ता, भटूरा, समोसा इत्यादि हो या फिर पास्ता, मोमोज, चाउमीन इत्यादि की तरह चाइनीज फूड, मैदा का इस्तेमाल हर जगह होता है।

Maida kisse banta hai 

यह बात तो वैसे भी सब को पता होगी की maida kaise banta hai तथा maida kis chij ka banta hai फिर भी हम आपको बता दे की मैदा गेहूं से बनता है बल्कि मैदा ही नहीं आटा, मैदा, सूजी (रवा) एवं दलिया आदि सभी गेहूं से बनते है बस सभी को बनाने का तरीका अलग-अलग होता है जैसे की आटा बनाने के लिए गेहूं को साबुत पीसना होता है जैसे अपने गेहूं को चक्की में जरुर पिस्ते हुआ देखा होगी।

Factory Me Maida Kaise Banta hai 

जैसा कि हमने अभी बात की कि आटा गेहूं से बनाया जाता है, लेकिन इसे बनाने की प्रक्रिया इतनी आसान नहीं है, इसे बड़े पैमाने पर कारखानों में बनाया जाता है, गेहूं को बहुत ही जटिल तरीके से संसाधित करने के बाद, ऊपर की परत को हटा दिया जाता है और इसमें फाइबर की मात्रा भी लगभग खत्म हो जाती है, अब हम गेहूं का आटा बनाने की विधि के बारे में स्टेप बाई स्टेप बात करेंगे।

  1. पहले अच्छी गेहूं को मिल में साफ़ किया जाता है
  2. फिर उसके बाद उन्हे 12-15 घंटे तक पानी में डुबाकर रखा जाता है
  3. इसके बाद उन्हे नार्मल तापमान पर गर्म किया जाता है
  4. भीगे हुए गेहूं के दानो को गर्म करने के बाद उनकी उपरी पीली सतह सूखने लगती है लेकिन बीच वाले हिस्से में अभी भी नमी होती है
  5. फिर इनको फोड़ने के लिए मशीन में डाला जाता है जिससे उनका bran और endosperm अलग-अलग हो जाता हैं
  6. इसके बाद endosperm को रोलर मशीन में डालकर बारीक पिसा जाता है जिससे लगभग मैदा बनकर तैयार हो जाता है लेकिन इसका अभी रंग हल्का पीला होता है 
  7. मैदा के पीलेपन को ख़तम करने के लिया और इसको बिलकुल सफ़ेद करने के लिए इसको Benzoyl peroxide और Alloxan नामक केमिकल के साथ ब्लीच किया जाता है जिससे यह बिलकुल सफ़ेद रंग का हो जाता है

घर पर मैदा कैसे बनाये 

  1. गेहूं को साफ कर के फिर सभी अनाजों को अलग-अलग निकाल लें।
  2. गेहूं को 2-3 बार अच्छी तरह पानी से धोकर साफ कर लें।
  3. एक बाल्टी में पानी डालकर उसमे गेहूं को डालकर रख दे। इसके बाद गेहूं को 10-15 मिनट तक पानी में भीगे रहने दे।
  4. गेहूं को पानी से निकालकर एक साफ कपड़े में डाल दे और उसे सूखने दे 
  5. सूखने के बाद गेहूं को एक चक्की में डाल दे और उसमें पानी डालकर अच्छी तरह से गूंथ लीजिए।
  6. अब गेहूं के छिलके को गेहू से अलग कर दे और आटे को एक साफ बर्तन में रख दे।
  7. आपका मैदा तैयार है।

Difference Between Maida and Atta 

  • मैदा एक गेहूं से बन्ने वाला पदार्थ है वही आता भी गेहूं से बनता है। 
  • आटे में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है पर मैदा में फाइबर नहीं होता है।
  • आटे की रोटियों हम रोज़ खा सकते है और ये हमारे लिए बहुत ही प्रोटीन भरा होता है लेकिन मैदा को हम नहीं खा सकते क्योकि मैदा हमारे शरीर के लिए अच्छी नहीं होती है। 
  • आता का रंग थोडा पीला होता है पर वही मैदा का रंग बिलकुल सफ़ेद होता है।

Maida Khane Ke Nuksan

 मैदा खाने के कई सरे नुकसान है जो हम आपको बताने वाले है जैसकी-

  • मोटापा और मधुमेह
  • पाचन तंत्र के लिए हानि
  • सफेद मैदा में पोषक तत्वों नहीं होते है। 
  • कैंसर का खतरा
  • विटामिन और मिनरल की कमी

निष्कर्ष

आज हमने आपको बताया की Maida Kaise Banta Hai, घर पर और फैक्ट्री में मैदा कैसे बनाये हमे उम्मीद है आपको आपकी जानकारी मिल गयी होगी अब आप भी अपने घर पर मैदा बना सकते है। 

Leave a Comment